IM
IM
IM
IM
IM
IM
IM
IM

Brief Introduction

त्रिवेन्द्र सिंह रावत का जन्म 1960 में पौड़ी गढ़वाल जिले के खेरेसैंण गांव में हुआ था। नौ भाई बहनों में सबसे छोटे, त्रिवेंद्र ने अपना ब चपन अपने मूल गांव में ही बिताया। उनके पिता श्री प्रताप सिंह रावत भारतीय सेना के गढ़वाल राइफल्स में सेवारत थे. अपने गांव के स्कूल में औपचारिक स्कूल शिक्षा पूरी करने के बाद, उन्होंने जहरीखाल के कॉलेज में दाखिला और इतिहास में अपनी डिग्री पूरी की। बाद में, उन्होंने पत्रकारिता में अपनी मास्टर की डिग्री श्रीनगर में बिरला परिसर से हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय से संबद्ध की। सामाजिक-सांस्कृतिक कार्य में गहरी दिलचस्पी ने उन्हें 19 वर्ष की आयु में आरएसएस में शामिल होने के लिए प्रेरित किया। पहल आरएसएस स्वयंसेवक और बाद में प्रचारक के रूप में, त्रिवेंद्र ने काफी संगठनात्मक कौशल हासिल किए। 25 वर्षीय स्वयंसेवक के रूप में, उन्हें देहरादून की जिम्मेदारी आरएसएस नगर प्रचारक के रूप में दी गई थी। बाद में उन्होंने आरएसएस के मेरठ क्षेत्र में बहुत सी सफलता के साथ कई अन्य जिम्मेदारियां सफलतापूर्वक निभाईं साथ ही मेरठ में, उन्होंने राष्ट्रदेव नामक पत्रिका के एक संपादक के रूप में भी काम किया। रावत की राजनीति में दीक्षा 1993 में शुरू हुई, जब उन्हें भाजपा के सचिव संगठन के रूप में नियुक्त किया गया। उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के शासन के दौरान उत्तराखंड के आंदोलन में रावत ने सक्रिय रूप से भाग लिया और कई मौकों पर जेल गए। Read more

Message

Our utmost effort is to provide the people of Uttrakhand with thoughtful, sensitive and effective governance that serves the needs of all sectors in a consequential way. A healthy, educated, gender sensitive, prosperous and happy Uttrakhand that stands spirited on the foundation of strong infrastructure. When all communities work harmoniously towards one goal,... Read more

Targets

-2017 तक सभी ब्लॉक में वीडियो कान्फ्रेंसिंग व्यवस्था व 10 Mbps की इंटरनेट स्पीड

-2018 तक हर गांव को बिजली

-2018 तक समस्त राज्य ODF

-2019 तक सभी गांव में मोबाईल कनेक्टिविटी

-2019 तक हर परिवार को बिजली

-2020 तक चारधाम ऑल वेदर रोड

-2022 तक हर परिवार को आवास पक्का घर

-2022 तक किसानों की आय दोगुना

-2022 तक 13 जिले में 13 नये पर्यटक स्थल

-2022 तक हर जिले में एक नदी/तलाब का पुनर्जीवित करना

-2028 तक ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलमार्ग

--Trivendra Singh Rawat

Event Images

Achievements


  • --Zero tolerance towards corruption.

  • --Char Dham Highway Development Project or Chardham Mahamarg Vikas Pariyojna to Gangotri, Yamunotri, Badrinath and Kedarnath.

  • --Chardham Rail Project to provide rail connectivity to Gangotri, Yamunotri, Badrinath and Kedarnath (Chardham) via Dehradun and Karanprayag.

Read more

Other BJP sites

Citizen Centric Services

Contact Us

39/29/3,Balbir Road,

Dehradun-248001 ,

Uttarakhand

Phone:0135-2669578